Botnet kya hai? बॉटनेट कैसे हटाये? ये कैसे काम करता है?

0

आज की इस पोस्ट में हम आपको बॉटनेट के बारे में बताएंगे कि botnet kya hai, botnet malware kya hai, botnet ko kaise hataye, botnet kaise kaam karta hai तो बोटनेट के बारे में जानने के लिए हमारी इस पोस्ट को पूरा पढिये।

कई बार आपने अखबारों में, तव चैनल पर botnet का नाम सुना होगा। हमने साइबर वर्ल्ड में बोटनेट का नाम बहुत सुना हैं, लेकिन बॉटनेट क्या है? आप इसे कैसे पता लगा सकते हैं और निकाल सकते हैं? आज हम इस विषय के बारे में चर्चा करेंगे।

Chatbot या Chatbots kya hote hai? चैटबॉट्स ऑटो रिप्लाई कैसे करें?

Botnet kya hai? बॉटनेट क्या है?

Botnet kya hai? बॉटनेट क्या है?
Botnet – बॉटनेट

बॉटनेट कंप्यूटरों का एक ऐसा नेटवर्क होता है जो कि पहले से ही हैक हो चुके होते हैं और एक हैकर के कंट्रोल में होते हैं। इस बॉटनेट नाम के वायरस से कोई हैकर किसी भी कंप्यूटर को दूर से ही कंट्रोल कर सकता है।

Botnet अलग अलग तरह के वायरस के फैलने की वजह से आपके मोबाइल या कंप्यूटर में फैल सकता है। इससे आपको काफी नुकसान हो सकता है।

यह कैसे काम करता है?

बॉटनेट के नेटवर्क में आये हुए हर एक डिवाइस को एक बॉट कहा जाता है। बॉटनेट का बॉट आमतौर पर तभी बनता है जब कोई डिवाइस किसी मैलेवेयर(malware) या वायरस के संपर्क में आ जाता है। इस प्रकार का एक बॉट या मालवेयर हैकर द्वारा किसी भी कंप्यूटर को उसके मालिक की जानकारी के बिना दूर से बैठे हुए ही कंट्रोल करने में सक्षम कर देता है। इन बॉटनेट्स के बॉट को कंट्रोल करने वाले हैकर को  “bot master” या “बॉट हेर्डर्स” के रूप में जाना जाता है।

ये हैकर अपने कई तरह के उद्देश्यों को पूरा करने के लिए बॉटनेट का प्रयोग कर सकते हैं। लेकिन ज्यादातर किसी आपराधिक गतिविधि को अंजाम देने के लिए ही प्रयोग करते हैं। किसी बॉटनेट का प्रयोग कोई हैकर आम तौर पर ईमेल स्पैम करने, आपके डिवाइस से आपका डेटा चोरी करना या किसी एडवेयर या स्पाइवेयर को आपके कंप्यूटर में डालने के लिए कर सकते हैं।

कोई भी बॉट मास्टर बॉटनेट बनाने के लिए सबसे पहले तो botnet virus या किसी अन्य तरह का मैलवेयर फैलाते हैं ताकि ये बाकी कंप्यूटर्स तक पहुच बना सकें। ऐसा करने के लिए कोई हैकर किसी ऐसे ब्राउज़र या किसी ऐसी फ़ाइल का प्रयोग करता है जिसमे की वायरस हो। इससे वह एक कंप्यूटर को इन्फेक्ट कर देता है।

जब एक बार कोई कंप्यूटर बॉटनेट वायरस से इन्फेक्ट हो जाता है तो यह कंप्यूटर बॉटमास्टर के command and control सर्वर में आ जाता है। अब वह बॉटमास्टर या हैकर आपके कंप्यूटर को अपने कंट्रोल से चला सकता है।

Best free chatbot builders 2019 फ्री चैटबॉट बिल्डर्स

कोई भी हैकर इस तरह के वायरस का प्रयोग क्यों करता है?

कोई भी साइबर अपराधी हजारों, दसियों हजारों या लाखों कंप्यूटरों को इन्फेक्ट और नियंत्रित करने की कोशिश करेंगे – ताकि साइबर अपराधी या हैकर एक बड़े  बॉट नेटवर्क के मास्टर के रूप में कार्य कर सकें –  जो कि एक DDOS हमले से एक बड़े पैमाने पर स्पैम अभियान, या अन्य प्रकार के साइबरटैक करना चाहेगा।

कभी कभी ऐसा होता है कि, साइबर अपराधी बॉटनेट का एक बड़ा नेटवर्क स्थापित कर देंगे और फिर इस बॉट नेटवर्क तक अन्य अपराधियों के लिए पहुंच बनाने के इसे बेचते हैं या तो इसे किराये पर देते हैं। स्पैमर एक बड़े पैमाने पर स्पैम अभियान शुरू करने के लिए इसी तरह का एक नेटवर्क खरीद सकते हैं या किराए पर ले सकते हैं।

Botnet ka pata kaise lagaye बॉटनेट का पता कैसे लगाएं?

एक बोटनेट का पता लगाना मुश्किल हो सकता है, क्योंकि ये बॉट्स उपयोगकर्ता के किसी भी ज्ञान के बिना कंप्यूटर या अन्य डिवाइस को ऑपरेट करने के लिए डिज़ाइन किए गए हैं। लेकिन, कुछ सामान्य संकेत हैं जिनसे आप जान सकते हैं कि कंप्यूटर को एक बॉटनेट वायरस से इन्फेक्ट किया गया है। जैसे कि :-

1. बढ़िया CPU के बावजूद डिवाइस का धीमा हो जाना
2. बार बार फालतू के पॉप अप आना।
3. ऐसे मैसेज जो कि आपके द्वारा नहीं भेजे गए
4. इंटरनेट एक्सेस में दिक्कत आना

Botnet se kaise bache?  बॉटनेट से कैसे बचें?

1. सबसे बढ़िया उपाय है कि आप anti botnet tools का उपयोग करें।
2. अपने डिवाइस के फर्मवेयर और यूजर सॉफ्टवेयर्स को हमेशा अपडेटेड रखिये।

12 बेस्ट youtube like client apps से यूट्यूब का बेहतर अनुभव पाएं

Botnet kaise hataye? बॉटनेट कैसे हटाये?

आप बॉटनेट को हटाने के लिये मार्केट में उपलब्ध किसी भी अच्छे एंटीवायरस सॉफ्टवेयर का उपयोग कर सकते हैं। जैसे कि kasperksy virus removal tool

तो ये थी हमारी पोस्ट जिसमे की हमने आपको  botnet kya hai, botnet malware kya hai, botnet ko kaise hataye, botnet kaise kaam karta hai के बारे में बताया। इसी तरह की जानकारी के लिए हमसे जुड़े रहिये।

हमारा फेसबुक पेज को जरूर लाइक करें। और अगर पोस्ट पसन्द आयी हो तो इसे शेयर करें।

Leave A Reply

Please enter your comment!
Please enter your name here